Tuesday, July 16, 2024

राजस्थान: पाकिस्तान के वेदर सिस्टम से राज्य में पड़ रहा है असर, 10 जिलों में बारिश की आशंका

जयपुर। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार पाकिस्तान का वेदर सिस्टम राजस्थान राज्य पर ज्यादा असर देखने को मिलेगा जिससे प्रदेश के कई राज्यों में बारिश की आशंका है. उन्होंने कहा कि इस सिस्टम का असर 19 मार्च तक रह सकता है.

राज्य में आज का मौसम

आपको बता दें कि प्रदेश में कल वेस्टर्न एरियाज में गरज-चमक के साथ बारिश होने से मौसम बदल गया। मौसम के इस बदलाव से प्रदेश में दिन-रात के तापमान में मामूली गिरावट हुई। मौसम विभाग ने बताया कि आज जालोर, सिरोही, बाड़मेर, जोधपुर, उदयपुर, पाली, राजसमंद, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और अजमेर के कुछ हिस्सों में बारिश हो सकती है। उन्होंने कहा कि अगले तीन दिन के लिए भी राजस्थान में मौसम विभाग ने हल्की से तेज बारिश और ओला वृष्टि का अलर्ट जारी किया है। मौसम विशेषज्ञों ने इस सिस्टम का असर 19 मार्च तक प्रदेश में रहने की संभावना जताई है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में बना यह साइक्लोनिक सर्कुलेशन राजस्थान में बदलते मौसम का कारण है.

14 मार्च को हुई थी बारिश

मंगलवार देर शाम को वेस्टर्न राजस्थान जैसे -अलवर, जयपुर, दौसा, भरतपुर, धौलपुर समेत कई जगहों पर हल्की बारिश हुई थी। अलवर के राजगढ़ में 5MM, मंडावर-बसवा में 4-4, दौसा जिले में 6, वहीं भरतपुर-धौलपुर में 5-5MM बारिश हुई। भरतपुर-धौलपुर में देर शाम बारिश के साथ तेज हवाएं भी चली। राजधानी जयपुर में भी शाम को मौसम में बदलाव हुआ और आसमान में बादल छाने के बाद बूंदाबांदी हुई।

मौसम में बदलाव का कारण

दरअसल नार्थ इंडिया में एक वेर्स्टन डिर्स्टबेंस एक्टिव हो रहा है। अगर राज्यों की बात करें तो मध्य में मध्य प्रदेश, पश्चिम में राजस्थान और गुजरात सीमा के पास एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है। इसके अलावा पाकिस्तान में कराची के आसपास एक भी साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है। इन सिस्टम के कारण गुजरात, राजस्थान, एमपी, महाराष्ट्र में अरब सागर से मॉइश्चर मिल रहा है। जिस वजह से मौसम में बदलाव देखा जा रहा है.

Latest news
Related news