Saturday, July 13, 2024

Rajasthan: सिविल सर्विस डे पर सीएम गहलोत ने कहा- मेरा विश्वास ब्यूरोक्रेसी में है, आज दबाव में हैं देश की एजेंसियां

जयपुर: राजस्थान में सिविल सेवा दिवस के मौके पर पहली बार सीएम एक्सीलेंस अवॉर्ड का आयोजन किया गया। जयपुर के आरआईसी ऑडिटोरियम में हुए इस कार्यक्रम में ई-फाइलिंग पर लघु फिल्मों का प्रदर्शन किया गया। समारोह में अलग-अलग जिलों में हुए अनूठे कार्यक्रमों की डॉक्यूमेंट्री भी प्रदर्शित की गई। वहीं कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ब्यूरोक्रेसी से रुबरू हुए। उन्होंने अधिकारियों के साथ मिलकर चलने में खुद को न केवल माहिर बताया, बल्कि उनसे सरकार की योजनाओं को सफल बनाने के लिए सहयोग भी मांगा। कार्यक्रम में सीएम गहलोत ने बेहतर काम करने वाले अफसरों को सम्मानित भी किया।
इस मौके पर सीएम अशोक गहलोत ने अधिकारियों से प्रदेश की सरकार की फ्लैगशीप योजनाओं को धरातल पर उतारने की अपील की। उन्होंने कहा कि नौकरी पाना ही बड़ी बात नहीं है, अच्छा काम भी जरूरी है।

आज दबाव में हैं देश की एजेंसियां

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा आज देश की एजेंसिया दवाब में हैं। यह दवाब अच्छी बात नहीं है. कई बार आप पर भी दबाव पड़ता होगा. मैनें ऐसे कई अधिकारियों के साथ काम किया है. गहलोत ने कहा कि हमने योजनाएं अच्छी बनाई हैं, लेकिन उसे अच्छे से लागू करना आपका कर्तव्य है। मैं ब्यूरोक्रेसी पर विश्वास करता हूं। इसलिए हमने जो प्रदेश के हित में योजनाएं बनाई है, उन्हें आप धरातल पर उतारें।

ईमानदारी का गुण होना जरूरी

एक्सीलेंस इनेबल प्राइवेट लिमिटेड चेयरमैन एम दामोदरन ने कहा कि टांग खिंचाई करने की मानसिकता गलत है. कठोर निर्णय लेना का साहस होना चाहिए. जब अच्छी खबर होती है तो अधिकारी खुद बताते हैं और जब खबर बुरी होती है तो हम पीआरओ को बताने को कहते हैं. ग्रीड से ग्रीफ की यात्रा बहुत छोटी यात्रा है. साथ ही ईमानदारी का गुण भी अत्यंत जरूरी है.

अंग्रेजी को लेकर कही यह बात

इससे पहले सीएम गहलोत ने एक्सीलेंस इनेबल प्राइवेट लिमिटेड चेयरमैन एम. दामोदरन की तरफ से अंग्रेजी पर दिए गए वक्तव्य पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि मुझे इंग्लिश कम आती है। इसलिए जब दामोदरन बोल रहे थे तो मुझे उषा शर्मा समझा रही थी। थोड़ी बहुत आती है, इसलिए पीछे बैठा ये ऋषभ लिख कर दे रहा था। सीएम के भाषण को दामोदरन नहीं समझ पा रहे थे, जिसके बाद गहलोत ने सीएस उषा से कहा कि उषा मैं जो बोल रहा हूं आप इन्हें इंग्लिश में समझाएं.

इन अधिकारियों को मिले अवॉर्ड

आपकों बता दें कि सिविल सर्विस डे पर पहली बार दिए गए एक्सीलेंस अवॉर्ड में झालावाड़ कलेक्टर भारती दीक्षित, उदयपुर कलेक्टर ताराचंद मीणा, बाड़मेर कलेक्टर लोकबंधु, पाली कलेक्टर नामित मेहता,आयोजना संयुक्त सचिव सुशील कुलहरि को अवॉर्ड दिए गए। इस मौके पर डीजीपी उमेश मिश्रा,सीएस उषा शर्मा सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

Latest news
Related news