Tuesday, July 16, 2024

Rajasthan News: ऑनलाइन निकाह के 138 दिन बाद भारत पहुंची पाकिस्तानी दुल्हन

जोधपुर: भारत-पाकिस्तान ये दो देश ऐसे है जिनमें हमेशा दुश्मनी की लकीर खींची रहती है। लेकिन कहीं न कहीं आज भी दोनों देश के लोगों के दिलों में रिश्ते जुड़े हुए हैं। यह रिश्ता इतना गहरा है कि आज भी बहन-बेटियों की शादी का सिलसिला दोनों देशों के बीच जारी है और विवाह हो रहें हैं। दरअसल जोधपुर के मुजम्मिल खान का निकाह पाकिस्तान की उरूज फातमा के साथ दो जनवरी को ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये हुआ था। दुल्हन उरूज पाकिस्तान के मीरपुरखास की रहने वाली हैं। वहीं अब दुल्हन निकाह के 138 दिन बाद अपने ससुराल पहुंची है। घर में खुशियों का माहौल है। मेहमानों का आना जाना लगातार जारी है। आस-पास के लोग पाकिस्तान से आई दुल्हन को देखने के लिए पहुंच रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री शेखावत ने की मदद

दरअसल शादी के बाद वीजा न मिल पाने की वजह से दुल्हन अपने ससुराल भारत नहीं आ पा रही थी। वहीं दूल्हे मुजम्मिल खान के दादा भाले खान मेहर ने बताया कि पाकिस्तान से दुल्हन भारत लाने के पीछे वीजा नहीं मिलने के कारण देरी हुई। लेकिन केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की मदद से दुल्हन अपने ससुराल भारत आ पाई है। भाले खान ने आगे बताया कि दुल्हन भारत पहुंचकर बहुत खुश है। आपको बता दें कि भाले खान मेहर सिविल कॉन्ट्रेक्टर हैं। उन्होंने बताया कि अपने पोते का रिश्ता पाकिस्तान में किया था। लेकिन ट्रेन बंद होने की वजह से वहां नहीं जा पा रहे थे और आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के चलते हवाई सफर करने में असमर्थ थे। फिर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दोनों का निकाह हुआ और अब वीजा मिलने के बाद दुल्हन भारत आ सकी है।

दिमाग में आया ये आइडिया

वहीं दूल्हा के दादा ने ये भी बताया कि समय के साथ बदलाव होना जरूरी है। कोरोना महामारी के बाद ऑनलाइन आयोजन का सिलसिला बढ़ गया है। कोरोना काल के बाद पाकिस्तान आना-जाना महंगा और जोखिम भरा हो गया है। पोते का पाकिस्तान में रिश्ता किया हुआ था। चिंता बढ़ गई कि पाकिस्तान बारात कैसे लेकर जाए। भारत-पाक थार एक्सप्रेस बंद हो गई। ऑनलाइन निकाह का आइडिया अच्छा लगा. हमने ऑनलाइन निकाह भी लिया। मेरे पोते की बहू जोधपुर पहुंच गई। वहीं पाकिस्तान की बेटी निकाह पढ़ने के 138 दिन भारत अपने ससुराल पहुंची।

Latest news
Related news