Wednesday, April 17, 2024

Rajasthan News : PM मोदी चाय पीकर कितना किए पेमेंट, मैक्रों को क्या मिला उपहार ?

जयपुर। गुरुवार को PM नरेंद्र मोदी व फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों जयपुर की चारदीवारी का दीदार करते हुए दिखे। दोनों नेता एक खुले वाहन में जब परकोटा की मार्गो पर निकले तो स्वागत के लिए पहुंचे जनसमूह ने मोदी जिंदाबाद एवं जय श्रीराम के जमकर जयकारे लगाए। बता दें कि दोनों राजनेताओं ने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन करते हुए दिखे।

खुले वाहन में निकले दोनों नेता

दोनों नेता जंतर-मंतर से खुले वाहन में निकले तो उस वक्त का नजारा देखने लायक था। अपने नेता का हजारों भीड़ सड़क के दोनों ओर खड़े होकर दीदार कर रही थी। ऐसे में पीएम मोदी वाहन में खड़े होकर उनका अभिवादन करते हुए दिखे। बड़ी चौपड़ दोनों नेताओं का वाहन पहुंचा एवं हवामहल की तरफ मुड़ा। पीएम मोदी और मैक्रों ने यहां के फेमस चायवाले की स्टाॅल पर चाय की चुस्कियां भी ली। पीएम मोदी ने चाय वाले को चाय के पैसे पूछे, लेकिन क्या उन्होंने पैसे लेने से साफ़ तौर पर मना कर दिया। हालांकि PM मोदी नहीं माने तो चायवाले ने चाय के महज 2 रुपए बतलाया। इसके बाद PM मोदी डिजिटल UPI के माध्यम से चाय की पेमेंट की। यहां एक दुकान से मोदी ने श्रीराम मंदिर का माॅडल भी खरीदा जिसे राष्ट्रपति मैक्रों को उपहार के तौर पर दिया गया। यहां से मोदी का रोड शो आगे की तरफ बढ़ा और सांगानेरी गेट पर संपन्न हुआ। जयपुर में दोनों नेताओं ने करीब 1.7 किलोमीटर का रोड शो किया। जयपुर में हुए खास स्वागत से फ्रांस के राष्ट्रपति अभिभूत नजर आए।

PM ने किया मैक्रों का वेलकम

जयपुर के जंतर-मंतर पहुंचकर PM मोदी ने मैक्रों का स्वागत किया। करीब एक घंटा तक दोनों नेता यहां रहे। दोनों नेताओं को इस दौरान जंतर-मंतर में बने यंत्रों की पूर्ण जानकारी दी गई। इसके पश्चात् दोनों नेता रोड शो किए। इससे पहले जब मैक्रों जयपुर एयरपोर्ट पर लैंड किए तो राज्यपाल कलराज मिश्र, राजस्थान CM भजन लाल शर्मा, मुख्य सचिव सुधांश पंत समेत कई अधिकारियों ने उनका स्वागत सत्कार किया।

आमेर महल का दीदार, साथ रहीं दिया कुमारी

मैक्रों जयपुर एयरपोर्ट से सीधे आमेर पहुंचे। कुछ दूर पैदल चलकर वें आमेर महल तक आए। यहां पहुंचकर उन्होंने महल का दीदार किया और उसकी कला कृति की तारीफ की। इस मौके पर उनके साथ उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी मौजूद रही। महल के इतिहास के बारे में उन्होंने मैक्रों को बताया। यहां की कला-संस्कृति से भी इस दौरान मैक्रों को रूबरू कराया गया।

Latest news
Related news