Saturday, July 13, 2024

Rajasthan News: 3-8 फरवरी तक कोटा में ‘आत्मनिर्भर भारत उत्सव’, जुटेंगे देशभर के बुनकर

जयपुर। राजस्थान के कोटा में 3-8 फरवरी तक ‘आत्मनिर्भर भारत उत्सव’ का आयोजन होने जा रहा है। ऐसे में यहां अपनी कला और कौशल का प्रदर्शन करने के लिए देशभर के बुनकर पहुंचेंगे. बता दें कि इसी महीने से देशभर के बुनकर कोटा के दशहरा मैदान में जुटेंगे. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला के प्रयासों से केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय की तरफ से ‘आत्मनिर्भर भारत उत्सव’ प्रदर्शनी का आयोजन 3 से 8 फरवरी तक किया जाएगा. भारत के विभिन्न प्रदेशों की संस्कृति, कला और परम्पराओं की झलक इस प्रदर्शनी में देखने को मिलेगी. कोटा में लोगों को बुनकरों के खूबसूरत उत्पाद का नजारा आकर्षित भी करेगा.

कोटा में आयोजन

विकसित भारत के संकल्प के तहत केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय द्वारा कोटा में आत्मनिर्भर भारत उत्सव प्रदर्शनी का आयोजन होने जा रहा है. लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला और केंद्रीय वस्त्र राज्य मंत्री दर्शना जरदोश द्वारा इस प्रदर्शनी का उद्घाटन किया जाएगा.

अलग-अलग प्रदेशों की लगेंगी दुकानें

बता दें कि इस प्रदर्शनी में 150 से अधिक दुकानें लगने वाली है, कई प्रदेशों से आए बुनकर इस प्रदर्शनी में अपना-अपना सामान प्रदर्शित करेंगे. खास बात यह हैं कि यहां एक ही जगह पर थिरुबुवनम, जामदानी, शांतिपुरी, चंदेरी, माहेश्वरी, पटोला, मोइरंगफी, बनारसी ब्रोकेड, तनचोई, भागलपुरी सिल्क, पैठनी, कोटपाड़, कोटा डोरिया, टंगाइल, पोचमपल्ली, कांचीपुरम, बावन बूटी, पश्मीना साड़ियां खरीदने का अवसर भी मिलेगा.

कई प्रदेशों की दिखेंगी साड़ियां

लोगों को इसके अलावा सूट, स्टॉल, कुर्ते और अन्य विशिष्ट उत्पाद भी देखने को मिलेंगे. विभिन्न प्रदेशों की साड़ियों को मेले में विभिन्न स्थानों पर खास तरीके से प्रदर्शित किया जाएगा. इसके साथ ही लोगों को साड़ी और हस्तकला से संबंधित पूर्ण जानकारी भी दी जाएगी. मेले में मनोरंजन को देखते हुए झूले और खाने-पीने के स्टॉल भी लगाए जा रहे हैं।

वन भारत वॉकथॉन’ का आयोजन

4 फरवरी को मेले के साथ ही भारत की विविधता में एकता वाली संस्कृति को प्रदर्शित करने और देश में हथकरघा साड़ी संस्कृति को बढ़ावा देना के लिए ‘वन भारत वॉकथॉन’ का आयोजन भी होने जा रहा है. महिलाएं परम्परागत साड़ी पहनकर इस वॉकथॉन में सम्मिलित होंगी. इस वॉकथॉन का शुरुआत दशहरा मैदान से होते हुए विभिन्न मार्गों तक होगा फिर वापस इसका समापण दशहरा मैदान पर ही होगा.

Latest news
Related news