Saturday, July 13, 2024

Rajasthan News: आज से राजस्थान में पेट्रोल व डीजल की किल्लत, संचालक जाएंगे हड़ताल पर

जयपुर। आज से दो दिन के लिए प्रदेश में पेट्रोल और डीजल के लिए लोगों को इंतजार का सामना करना पड़ेगा। इसके पीछे का कारण सिरोही जिला पेट्रोलियम डीलर्स एसोसियसन अध्यक्ष ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी की गारंटी के 90 दिन के बाद भी डीजल-पेट्रोल पर वैट कम नहीं हुआ। इस कारण डीलर्स और प्रदेश की आम जनता में वादा खिलाफी से रोष व्याप्त है।

जानें पूरा मामला

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसो. ने पेट्रोल-डीजल पर वैट नहीं घटाने समेत अन्य मांगों को लेकर हड़ताल पर जाने का फैसला किया है. इस संबंध में आज 10 मार्च से 12 मार्च तक प्रदेश की सभी एजेंसियों को पेट्रोल-डीजल खरीदने और बेचने पर रोक लगा दी गई है। हड़ताल की घोषणा के बाद शनिवार को प्रदेश के कई हिस्सों में पेट्रोल-डीजल भरवाने वाले वाहनों की कतारें लग गईं. दो दिवसीय पेट्रोल पंपों की हड़ताल 10 मार्च को सवेरे 6 बजे शुरू होगी जो 12 मार्च सवेरे 6 बजे तक चलेगी।

बैठक में हुई थी चर्चा

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के प्रबंध सदस्यों की वर्चुअल बैठक में पेट्रोल और डीजल पर वैट नहीं घटाने, तेल कंपनियों द्वारा डीलर कमीशन नहीं बढ़ाने और ल्यूब ऑयल एवं प्रीमियम उत्पादों की अनिवार्य आपूर्ति जैसे मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में सभी जिलों के आरपीडीए के अध्यक्ष, सचिव और बोर्ड सदस्य शामिल हुए।

11 मार्च को निकलेगी मौन रैली

इन मांगों को लेकर 11 मार्च को स्टेच्यू सर्कल से जयपुर सचिवालय तक व्यापारियों की एक मौन रैली भी निकाली जाएगी। इस आशय का पत्र राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह भाटी के हस्ताक्षर के साथ जारी कर दिया गया है।

लोकसभा चुनाव में नहीं देंगे पेट्रोल-डीजल उधार

पेट्रोलियम डीलर्स एसोसियसन अध्यक्ष द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार गंगानगर, हनुमानगढ़, बाड़मेर, जैसलमेर, धौलपुर, सिरोही, चूरू, जालौर, करौली, दौसा, सीकर तथा झुंझुनू के पेट्रोल पंपों के संचालक 11 मार्च 2024 को जिला मुख्यालय पर जिला कलेक्टर को अपनी मांग के समर्थन में PM मोदी और CM भजनलाल के नाम ज्ञापन देंगे। इसके साथ ही पेट्रोल पंप संचालक आगामी लोकसभा चुनाव में लगे जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और अन्य वाहनों को पेट्रोल-डीजल उधार नहीं देंगे।

Latest news
Related news