Saturday, May 18, 2024

Rajasthan MGNREGA worker: मजदूर दिवस पर मनरेगा मजदूरों को तौफा, मजदूरी बढ़ी

जयपुर: आज 1 मई को दुनिया भर में मजदूर दिवस मनाया जा रहा है। इस बीच राजस्थान के भजनलाल शर्मा ने प्रदेश में गर्मी के प्रकोप को देखते हुए मनरेगा के कार्य-अवधि में बदलाव किया गया है। इससे प्रदेश के मनरेगा मजदूरों को बड़ी राहत दी गई है। इस संबंध में ईजीएस आयुक्त शिवांगी स्वर्णकार ने आदेश जारी करते हुए मजदूरों के लिए कार्यसमय सुबह 6 बजे से दोपहर 1 बजे तक तय किया गया है। बता दें कि यह आदेश आज 1 मई से शरू हो कर 15 जुलाई तक प्रभावी रहेगा। इसके बाद अपने-अपने क्षेत्र की परिस्थितियों के अनुसार जिलाधिकारी कार्यसमय में बदलाव करेंगे।

मनरेगा मजदूरों को मिली बड़ी राहत

प्रदेश में लगातार गर्मी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इस दौरान लोगों को कार्य करने में अधिक परेशानी होती हुई दिख रही है। इस दौरान भनलाल सरकार ने अहम निर्णय लेते हुए प्रदेश के मनरेगा मजदूरों को बड़ी राहत दी है। उनके कार्यसमय में बदलाव किया है। यह बदलाव जिलाधिकारी के आदेश तक जारी रहेगा। लेबर डे पर राज्य सरकार मनरेगा मजूरों को बड़ी राहत दी है।

प्रतिदिन 266 रुपए मिल रही मजदूरी

बता दें कि मनरेगा मजदूरों के लिए इस लेबर डे पर अच्छी ख़बर सामने आई है। हाल ही में केंद्र की मोदी सरकार ने एक अधिसूचना जारी करते हुए मनरेगा मजदूरों की मजदूरी बढ़ाया था। नई मजदूरी 1 अप्रैल से मिलनी शुरू हो गई है। केंद्र सरकार ने नई मजदूरी में 3 फीसद से 10 फीसद की बढ़ोतरी की थी। प्रदेश में इससे पहले मजदूरों को प्रतिदिन 255 रुपए के हिसाब से मजदूरी दी जाती थी। वहीं नई मजदूरी के हिसाब से मनरेगा मजदूरों को अब प्रतिदिन 266 रुपए मजदूरी मिल रही है।

राजस्थान में मजदूरी की रेट में सबसे अधिक बढ़ोतरी

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय ने 24 मार्च 2023 को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के जरिए मजदूरी में परिवर्तन की अधिसूचना जारी की थी। साल 2023-24 में मजदूरी की रेट में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी राजस्थान में हुई थी।

Latest news
Related news